पतंजलि ने IPL स्पॉन्सरशिप के लिए दिखाई दिलचस्पी, VIVO की जगह लगा सकती हैं बोली

इंडियन प्रीमियर लीग के 13वें सीजन से VIVO को हटाए जाने के बाद लीग के लिए नए प्रायोजकों के लिए जगह खाली हो गई है। ऐसे में योगगुरु बाबा रामदेव की आयुर्वेद कंपनी पतंजलि इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) सीजन 13 की टाइटल स्पॉन्सरशिप के लिए बोली लगाने पर विचार कर रही है। हालांकि अभी BCCI की तरफ से इस पर कोई बयान नहीं दिया गया है।

ipl-2020

पतंजलि के प्रवक्ता एसके तिजारावाला ने PTI से कहा, ‘हम इस पर विचार कर रहे हैं। यह वोकल फॉर लोकल के लिए है और एक भारतीय ब्रांड को ग्लोबल बनाने के लिए, यह सही मंच है. हम इस पर विचार कर रहे हैं।’ हालांकि, तिजारावाला ने यह भी कहा कि पतंजलि का इस मुद्दे पर अंतिम फैसला लेना बाकी है। तिजारावाला ने कहा, ‘हमें एक अंतिम निर्णय लेना है, चाहे हम इसे ले या नहीं।’

जानकारी के अनुसार IPL 2020 सीजन के लिए BCCI नए टाइटल स्पॉन्सर की खोज में आज टेंडर जारी कर सकता है। वीवो के जाने के बाद से आईपीएल की टाइटल स्पॉन्सशिप के लिए जियो, एमेजॉन, टाटा ग्रुप, ड्रीम 11 और बायजूस जैसी कंपनिया दिलचस्पी दिखा चुकी हैं। बीसीसीआई आईपीएल-13 के नए प्रायोजक के लिए पूरी पारदर्शिता और प्रक्रिया का पालन करेगी।

विशेषज्ञों के मुताबिक VIVO की जगह टाइटल स्पॉन्सशिप हासिल करने के लिए वीवो की रकम 440 करोड़ से कम रकम लगानी होगी। कोई भी कंपनी इसमें आए यह हर किसी के लिए अच्छी स्थिति है।

vivo-ipl

वीवो ने 2018 से 2022 तक पांच साल के लिए 2190 करोड़ रुपये में आईपीएल टाइटल प्रायोजन अधिकार हासिल किए थे। अगले साल वीवो मुख्य प्रायोजक के रूप में लौट सकता है।

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *