मुंबई के धारावी में रुकी कोरोना की रफ़्तार , WHO चीफ ने की धारावी की तारीफ।

,
flattening of curve

WHO के प्रमुख अधमॉन टेडरॉस ने एक प्रेस कांफ्रेंस मैं कई देशों की तारीफ की है जिन्होंने कोरोना वायरस पर कण्ट्रोल करने मैं अच्छी सफलता पाई है। इन देशों में इटली, स्पेन और दक्षिण कोरिया के नाम हैं, इसके अलावा एक नाम मुंबई स्थित दुनिया के सबसे बड़े स्लम धारावी का भी है जिसका जिक्र टेडरॉस ने अपने संबोधन में किया और कोरोना वायरस के खिलाफ यहां चल रही मुहीम की तारीफ की।

 

विश्व स्वास्थ्य संगठन प्रमुख अधमॉन टेडरॉस ने कहा, कुछ देशों के उदाहरण दिए जा सकते हैं। इनमें इटली, स्पेन और दक्षिण कोरिया हैं। इनमें मेट्रो सिटी मुंबई का खचाखच भरा इलाका धारावी भी है। इन जगहों पर बड़े स्तर पर लोगों में जागरूकता का अभियान चलाया गया। कोरोना वायरस की जो मूलभूत बात टेस्टिंग, ट्रेसिंग और आइसोलेशन से जुड़ी है, उसका पूरा ख्याल रखा गया। कोरोना के संक्रमण को रोकने और उसे खत्म करने के लिए हर बीमार आदमी का इलाज किया गया।

WHO के प्रमुख अधमॉन टेडरॉस ने आगे कहा कि ऐसी महामारी की कमर तोड़ने के लिए पूरी दुनिया को मिलकर आक्रामक रवैया अख्तियार करना होगा। उन्होंने कहा, दुनिया में आज कई उदाहरण हैं जिससे पता चलता है कि संक्रमण की दर भले ही तेज क्यों न हो, उसे काबू में लिया जा सकता है। WHO प्रमुख ने इस बात पर जोर दिया कि लोगों को एकजुट होकर ही इसके खिलाफ लड़ना होगा। इसमें देशों का सक्षम नेतृत्व भी बड़ा रोल अदा करेगा।

टेडरॉस ने आगे कहा, कई देश जिन्होंने इस संक्रमण को हल्के में लिया और लोगों को बाहर आने-जाने की ढील दी, वहां अब मामले फिर बढ़ने लगे हैं।

आपको जानकरी के लिए बता दें की, जो धारावी अभी हाल तक कोरोना संक्रमण के लिए सुर्खियों में बना हुआ था, जहां हर दिन कई केस सामने आ रहे थे, वहां गुरुवार को केवल 9 नए मामले सामने आए हैं। इसी के साथ धारावी में अब तक कुल कोरोना केस की संख्या 2347 तक पहुंच गई है।

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *